कठिन परिश्रम व अभ्यास से अच्छा खिलाड़ी बना जा सकता है: प्रो. कृष्णा

Spread the love

मंगलायतन विश्वविद्यालय में शुक्रवार को 12 टीमों के मध्य अंतर विभागीय क्रिकेट टूर्नामेंट की शुरूआत हुई, जो छह दिनों तक चलेगी। प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने के लिए 180 खिलाड़ियों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया था।
कुलपति प्रो. केवीएसएम कृष्णा ने टीम एमयू राइडर व टीम रेड राइडर के मध्य टॉस उछाल कर व सांकेतिक रुप से बैटिंग करके प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। कुलपति ने कहा कि कठिन परिश्रम व अभ्यास से अच्छा खिलाड़ी बना जा सकता है और अच्छे स्तर को पा सकते हैं। कुलसचिव प्रो. दिनेश शर्मा ने कहा कि खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलना चाहिए। डीन एकेडमिक प्रो. उल्लास गुरुदास ने कहा कि खेलों से हम व्यवहारिक बनते हैं। क्रीड़ा अधिकारी डा. शिवकुमार ने खेलों का संचालन किया। पहले दिन एमयू रायडर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए अपनी प्रतिद्वंदी टीम के सामने 130 रन का लक्ष्य रखा। मैदान में उतरी रेड राइडर की टीम 38 रन पर ही ऑल आउट हो गई। दूसरी पाली में टॉस जीतकर रॉयल चेलेंजर ने फिल्डिंग करने का निर्णय लिया। हॉस्टल टीम ने बल्लेबाजी करते हुए 56 रन का लक्ष्य रखा। बल्लेबाजी के लिए उतरी रॉयल चेलेंजर 40 रन पर ही ऑल आउट हो गई। एमयू व हॉस्टल टीम को विजयी घोषित किया गया। इस अवसर पर रणजी ट्राफी प्रतिभागी राजेश पंचसारा, डा. राकेश शर्मा, डा. दीपशिखा सक्सेना, सुखपाल, उन्नीकृष्णन उपस्थित रहे। खिलाड़ियों में मनू उपाध्याय, कार्तिकेय भारद्वाज, पुलकित, मोहित शर्मा, सोनम, कल्पना आदि थे।

Related posts

One Thought to “कठिन परिश्रम व अभ्यास से अच्छा खिलाड़ी बना जा सकता है: प्रो. कृष्णा”

Leave a Comment